17 सितंबर को राष्ट्रीय श्रम दिवस घोषित करे सरकार : भा.म.संघ

0
SHARE
भगवान विष्वकर्मा पर माल्यार्पण करते बीएमएस के श्रमिक नेता.

नवादा (विसंके)। 17 सितंबर को सृष्टि के प्रथम सृजनकर्ता भगवान विश्वकर्मा की जन्म जयंती पर भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) अपनी वर्षों पुरानी मांग को दुहराते हुए केन्द्र एवं राज्य सरकार से 17 सितंबर को राष्ट्रीय श्रमिक दिवस घोषित करने की मांग की। इस अवसर पर स्थानीय फल गली स्थित संघ कार्यालय, नवादा में आयोजित भगवान विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर बीएमएस से जुड़े श्रमिक नेताओं ने भारत माता एवं भगवान विश्वकर्मा के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। जिसके बाद आयोजित सभा को संबोधित करते हुए बीएमएस से संबद्ध अखिल भारतीय आशा कर्मचारी महासंघ की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह बिहार बीएमएस प्रदेष उपाध्यक्ष सह प्रदेश महामंत्री आशा संघ की इन्दु झा ने कहा कि 17 सितंबर को सृष्टि के प्रथम सृजनकत्र्ता भगवान विश्वकर्मा जी का जंयती को केन्द्र सरकार राष्ट्रीय श्रमिक दिवस घोषित करे, बीएमएस की ये मांग वर्षों पुरानी है। इन्दु झा ने इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्ताओं को बताया कि मई दिवस कभी श्रमिक दिवस नहीं हो सकती, ये विदेषी उपद्रवियों के द्वारा भारत के उपर थोपने के प्रयास का परिणाम है। ये चाइना की साजिश का हिस्सा है। भारत में अगर सही मायने में श्रमिक मजदूरों को सम्मान देने का सरकार का इरादा है तो भगवान विश्वकर्मा जयंती को श्रमिक दिवस के रूप में घोषित करना होगा।

बीएमएस से संबद्ध कई युनियनों ने लिया भाग


वहीं इस अवसर पर कार्यक्रम को भारतीय मजदूर संघ, नवादा इकाई के जिला अध्यक्ष रामानुज प्रसाद सिंह ने कहा कि बीएमएस द्वारा अपने स्थापना काल 1955 से ही विष्वकर्मा जयंती को राष्ट्रीय श्रम दिवस घोषित करने की मांग की जा रही है। इस अवसर पर जिले के कई श्रमिक नेताओं ने इस मांग का पूरजोर समर्थन करते हुए विदेशी चाल को असफल करने की बात कही। वहीं कार्यक्रम को सफल बनाने में भारतीय मजदूर संघ के कई युनियनों ने भाग लिया। आशा स्वास्थ्य कार्यकत्र्ता संघ, नवादा इकाई, बिहार प्रदेश भवन एवं पथ निर्माण मजदूर संघ, नवादा इकाई, बिहार खेतीहर मजदूर संघ, नवादा पथ निर्माण मजदूर संघ, नवादा, बिहार प्रदेश प्रारंभिक माध्यमिक शिक्षक संघ समेत पोस्टल, जीडीएस समेत दर्जनों युनियनों ने भाग लिया। इस अवसर पर आशा संघ की सदस्य रंजु कुमारी अम्बष्ठा, भवन निर्माण मजदूर संघ के जिला मंत्री चंदन कुमार, सोहन कुमार, सुबोध कुमार, षिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष रणजीत कुमार, पोस्टल से रामवृक्ष सिंह समेत दर्जनों कार्यकर्त्ता मौजुद थे।

LEAVE A REPLY