शीर्षक ने कहानी का रंग ही बदल दिया, मुस्लिम परिवार का विवाद हिन्दू पर्व से जोड़ा

0
SHARE

मीडिया में शीर्षक का बड़ा महत्व होता है। आज की व्यस्त जिंदगी में शीर्षक पढ़कर ही घटना समझ ली जाती है। लेकिन, कुछ ऐसे नासमझ भी हैं जो लोकप्रियता के चक्कर में शीर्षक से घटना का सत्यानाश कर देते हैं। ऐसी ही एक घटना 5 नवंबर को घटी। बिहार के मुजफ्फरपुर के सतरा थानाक्षेत्र में एक मुस्लिम परिवार में दो शौतन के बीच लड़ाई हुई। गुस्से में सौहर ने अपनी एक बेगम का जीभ काट लिया। संयोग से उस दिन करवा चैथ था। बिहार में वैसे भी करवा चैथ का आयोजन व्यापक पैमाने पर नहीं किया जाता। लेकिन, खबर नवीसियों ने अपने खबर को लोकप्रिय बनाने के चक्कर में इस घटना को करवा चैथ से जोड़ दिया।
मुजफ्फरपुर के सरेया गांव निवासी मोहम्मद शफीक ने दो शादी की थी। मोहम्मद शफीक की शादी अंगूरी खातून से हुई थी। अंगूरी से बच्चा न होने पर उसने मीना खातून से शादी की। 5 नवंबर को मो. शफीक राजस्थान से लौटा था। दोनों शौतन झगड़ा कर रही थी। दूसरी पत्नी मीना प्रताड़ना से तंग आकर घर से बाहर निकलकर चिल्ला रही थी। इससे आक्रोशित पति ने पहले उसे कमरे में बंद कर बेरहमी से पीटा, फिर ब्लेड से जीभ के दो टुकड़े कर दिये। 22 वर्षीय मीना खातून को गंभीर हालत में सकड़ा रेफरल अस्पताल लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार कर उसे मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। एसकेएमसीएच के सर्जरी के विभाग के डाॅ. अमलेन्दु के अनुसार महिला के जीभ में गंभीर जख्म है। ज्यादा खून निकल जाने से उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।
इस घटना के संबंध में पीड़िता की मां सकरा फरीदपुर निवासी आयशा खातून ने दामाद मो. शफीक और बेटी की शौतन अंगूरी खातून पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY