Monday, April 12, 2021

    Trending

    काशी विश्वनाथ मंदिर ज्ञानवापी परिसर के पुरातात्विक सर्वेक्षण की अनुमति

    न्यायालय ने काशी विश्वनाथ मंदिर ज्ञानवापी परिसर विवाद मामले में बड़ा फैसला सुनाया है. न्यायालय ने परिसर के पुरातात्विक सर्वेक्षण का आदेश दिया है,...

    कला के माध्यम से समर्थ समाज का निर्माण हमारा लक्ष्य –...

    नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने आज संस्कार भारती के नवनिर्मित मुख्यालय ‘कला संकुल’ का लोकार्पण किया. लोकार्पण...

    समाज के हर व्यक्ति पर पर्यावरण संरक्षण का दायित्व – डॉ....

    प्रकृति प्रेम को भारतीय परंपरा और जीवन शैली का अभिन्न हिस्सा बताया… हरिद्वार (विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने पर्यावरण...

    नरगाकोठी सरस्वती शिशु मंदिर में हवन पूजन के साथ सत्र प्रारंभ

    भागलपुर (विसंके)। पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी में सत्र 2021-22 का प्रारंभ हवन-पूजन के साथ किया गया। हवन पूजन का प्रारंभ...

    सिमी के 12 आतंकियों को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा...

    विसंके (बिहार). मंगलवार को जयपुर की एक अदालत ने सिमी के 12 सदस्यों को आतंकी करार दिया तथा उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई....

    संघ के सरकार्यवाह बने दत्तात्रेय होसबाळे

    बेंगलुरु (विसंके). दत्तात्रेय होसबाळे जी का जन्म 1954 में कर्नाटक के शिमोगा जिले के होसबाले गाँव में हुआ. अंग्रेज़ी विषय से स्नातकोत्तर तक की शिक्षा...

    इमारत-ए-शरिया के कार्यकारी महासचिव द्वारा कुकर्म की कोशिश

    पटना (विसंके)। बिहार, उड़ीसा और झारखंड के मुसलमानों की सबसे बड़ी एदारा ‘इमारत-ए-शरिया’ के कार्यवाहक नाजिम शिबली कासमी पर कुकर्म का मामला दर्ज हुआ...

    समाज जागरण के लिए सामाजिक-धार्मिक संगठनों को साथ जोड़ेगा संघ –...

    बेंगलुरु. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने कहा कि समाज में कार्यरत सामाजिक, धार्मिक संगठनों को साथ लेकर समाज...

    रिजल्ट नहीं आने पर छात्रों ने कुलपति का पुतला फूंका

    पटना (विसंके)। रिजल्ट प्रकाशित नहीं करने को लेकर अभाविप के अनुग्रह नारायण महाविद्यालय इकाई ने मगध विश्वविद्यालय के कूलपति का पुतला दहन किया। अभाविप के...

    घोष के जन्मदाता है आदिगुरू शिव : नवल किशोर

    नवादा (विसंके)। आदिगुरू महाकाल शिव घोष के जन्मदाता रहे, उनके डमरू द्वारा ही सम्पूर्ण ब्रह्मांड में पहली अलौकिक ध्वनि से समस्त जगत को झुमने...

    EDITOR PICKS