मगध विश्वविद्यालय में उजागर भ्रष्ट नीतियों के खिलाफ पटना विश्वविद्यालय के विभिन्न परिसरों में कुलपति का फूंका पुतला : अभाविप

0
SHARE

पटना (विसंके)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, पटना विश्वविद्यालय के द्वारा आज पटना कॉलेज, वाणिज्य महाविद्यालय, कॉलेज साइंस कॉलेज, बीएन कॉलेज, दरभंगा हाउस जैसे शैक्षणिक परिसरों में मगध विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा किए गए करोड़ो के घोटाले व शिक्षा व्यवस्था को शर्मसार करने वाले ऐसे कुलपति के खिलाफ पटना विश्वविद्यालय के विभिन्न शैक्षणिक परिसरों में छात्र-छात्राओं द्वारा नारेबाजी एवं विरोध प्रदर्शन करते हुए महाविद्यालय के मुख्य गेट पर कुलपति का पुतला दहन किया गया।

abvp patna 01

इस पुतला दहन के माध्यम से अभाविप के प्रदेश सहमंत्री नीतीश पटेल ने कहा मगध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजेंद्र प्रसाद के भ्रष्टाचार का मामला सर्वप्रथम अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने ही उजागर किया था और उनके विरुद्ध राजभवन एवं बिहार सरकार को शिकायत पत्र भेजकर मामले की जांच का अनुरोध किया था। बिना किसी निविदा प्रक्रिया के कुलपति ने पंद्रह लाख उत्तर पुस्तिकाओं का क्रय किया था जबकि ऐसी खरीददारी बिहार सरकार के जैम पोर्टल से करने का प्रावधान है। इसी प्रकार विधि विरुद्ध जाकर कुलपति द्वारा सोलह करोड़ के ओएमआर की खरीददारी के मामले को भी विद्यार्थी परिषद् द्वारा संज्ञान में लाया गया था। कुलपति का काला कारनामा यहीं नहीं रुका।

a3566c09-7e5b-4263-a976-73ae22ec0ef8

विश्वविद्यालय में दर्जनों वाहनों के रहते राजभवन की अवहेलना कर उन्होंने छब्बीस लाख रुपए के कार की खरीददारी कर डाली। अभाविप ने इसके साथ कुलपति द्वारा विश्वविद्यालय में अनियमित व अवैध नियुक्ति को प्रकाश में लाया था।

abvp0000

वहीं विश्वविद्यालय संयोजक अभिनव शर्मा ने कहा कि विद्यार्थी परिषद् सदैव भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ती रही है। इस पूरे मामले को संज्ञान में आने के बाद भी वे जिस प्रकार से तानाशाही रवैया अपना रहे हैं ओर अब भी अपने पद पर बने हुए है इसके लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कड़े शब्दों में निंदा करती है। ऐसे सभी शिक्षा माफियाओं को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद यह संदेश देना चाहती है कि चाहे पद और सत्ता का कितना भी दुरुपयोग कर लिया जाए लेकिन विद्यार्थी परिषद के एक-एक कार्यकर्ता सदैव ही ऐसे लोगों के खिलाफ आवाज बुलंद करती रहेगी।

abvp darbhanga house

कुलपति के इस कुकृत्य मामले पर अतिशीघ्र कठोर कार्रवाई करने की मांग सरकार से की गई। वहीं छात्र नेता वरूण सिंह ने कहा कि सरकार, विश्वविद्यालय जैसे शैक्षिक संस्थानों में शुचिता सुनिश्चित करें ओर कुलपति पर शीघ्र कार्रवाई करें अन्यथा अभाविप कैम्पस से राजभवन तक शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ करने के लिए क्रमबद्ध आंदोलन करेगी। इस दौरान मुख्य रूप से आकृति भारती, आँचल कुमारी, विनायक शंकर, कुंदन कुमार, अभिनव कुमार, राकेश कुमार, आयुष, प्रियरंजन, वैभव कुमार, राजा रवि, अनीश कुमार, रविकरण, राजीव कुमार, मनमोहन आनंद, तथा विभिन्न परिसर से सैकड़ों की संख्या में छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

LEAVE A REPLY