डॉ. शैलेश्वर प्रसाद बने अभाविप के प्रांत अध्यक्ष, लक्ष्मी रानी को मिला प्रांत मंत्री का दायित्व

0
SHARE

पटना (विसंके)। डॉ. शैलेश्वर प्रसाद और लक्ष्मी रानी देश के अग्रणी छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के बिहार प्रांत के क्रमशः प्रांतीय अध्यक्ष एवं प्रांतीय मंत्री के रूप में सत्र 2020-21 हेतु निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। यह घोषणा आज अभाविप के प्रांत कार्यालय पटना में हुई।

अभाविप के प्रांतीय कार्यालय से आज चुनाव अधिकारी डॉ मुरारी शरण मांगलिक द्वारा जारी वक्तव्य के अनुसार उपरोक्त दोनों पदों का कार्यकाल 1 वर्ष रहेगा। दोनों पदाधिकारी पटना में दिनांक 9 एवं 10 जनवरी 2021 को आयोजित प्रांत अधिवेशन में अपना पदभार ग्रहण करेंगे।

डॉ. शैलेश्वर प्रसाद
डॉ. शैलेश्वर प्रसाद

डॉ. शैलेश्वर प्रसाद तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय भौतिकी विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं। डॉ. प्रसादभौतिकी विषय में एमएससी एवं पीएचडी हैं और अपने विषय के जाने माने शिक्षाविद हैं। इनका गृहजिला सुपौल है और वर्तमान में भागलपुर में निवास करते हैं। अभाविप के संपर्क में यह 2004 में आए हैं और तत्पश्चात नगर, जिला व विश्वविद्यालय स्तर के विद्यार्थी परिषद् के विविध दायित्यों का सम्यक निर्वाहन किया है। डॉ प्रसाद वर्तमान में भागलपुर विश्वविद्यालय में अभिषद् सदस्य के साथ केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी के प्रथम कोर्ट के भी सदस्य हैं। वर्तमान में ये अभाविप के प्रांत अध्यक्ष हैं।

लक्ष्मी रानी
लक्ष्मी रानी

लक्ष्मी रानी बीएड ( द्वितीय वर्ष) की छात्रा हैं। परिषद् से इनका संपर्क वर्ष 2010 से है। इन्होंने नगर छात्रा प्रमुख, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य, प्रदेश सह मंत्री व प्रदेश सह छात्रा प्रमुख जैसे परिषद् के प्रमुख दायित्वों का निर्वहन किया है। लक्ष्मी रानी जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा की सीनेट सदस्य हैं और वर्तमान में अभाविप की प्रदेश मंत्री हैं। कोविड-19 जैसी महामारी के समय परिषद् की पाठशाला प्रारंभ करने में इनका विशेष योगदान सराहनीय है।

LEAVE A REPLY