बोधगया के होटल संचालक चीनी उत्पाद और चीनी पर्यटकों का बहिष्कार करेंगे

0
SHARE

अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक स्थल बोधगया के होटल संचालकों ने निर्णय लिया है कि वे अपने यहां चीनी उत्पादों की बिक्री नहीं करेंगे। उन्होंने यह भी निर्णय लिया है कि वे अपने यहां चीनी पर्यटकों को ठहरने की अनुमति नहीं देंगे। यह फैसला 26 जून को शाम में बोधगया होटल एसोसिएशन ने लिया है। एसोसिएशन के महासचिव सुदामा कुमार ने अपने बयान में बताया है कि चीन हमेशा भारत को धोखा देता रहा है। गलवान घाटी में उसकी हरकत कभी माफ करने योग्य नहीं है। देश के शहीदों को श्रद्धांजलि के तौर पर उनलोगों ने निर्णय लिया है कि वे अपने यहां किसी चीनी पर्यटक को नहीं ठहरने देंगे। साथ ही चीनी उत्पादों की बिक्री भी अपने होटल में नहीं करेंगे।
बोधगया एक अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक स्थल है।  महात्मा बुद्ध को यहीं ज्ञान प्राप्त हुआ था। विश्व में जितने बौद्ध धर्मावलंबी देश हैं उनसबों में अपने यहां अतिथि गृह बना रखे हैं। विश्व से प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु बोधगया दर्शन करने आते हैं। राज्य का एकमात्र अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भी बोधगया में ही है। ऐसे समय में बोधगया होटल एसोसिएशन द्वारा यह निर्णय लेना एक महत्वपूर्ण पहल माना जा रहा है।02 copy

LEAVE A REPLY