जाफराबाद में सीएए के विरोध में हिंसक हुए प्रदर्शनकारी, तीन गाड़ियों में लगाई आग

0
SHARE

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर दिल्ली के जाफराबाद में आज सुबह फिर से एक बार हिंसा भड़क गई। दोपहर में समर्थकों और विरोधियों के बीच झड़प हुई। जाफराबाद का प्रदर्शन बेहद हो गया है दोनों तरफ से लगातार गोलीबारी भी हो रही है। हिंसक का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि प्रदर्शनकारियों द्वारा तीन गाड़ियों में आग लगा दी गई।
जाफराबाद में हर तरफ से पत्थरबाजी हो रही है। हिंसक प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने कई दुकानों को आग लगाने की कोशिश भी की। प्रदर्शन के दौरान हुई गोलीबारी में एक प्रदर्शनकारी के साथ एक पुलिसकर्मी को गोली लग गई।
वहीं मौजपुर इलाके में भी सोमवार को लगातार दूसरे दिन सीएए के समर्थक और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई। प्रर्दशन के दौरान दो पुलिसकर्मियों समेत 15 लोग घायल हो गए। यह पर प्रदर्शन को देखते हुए मौजपुर जाने वाले सभी रास्ते को बंद कर दिया गया है।
सुरक्षा की दृष्टि से दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए हैं। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ‘‘जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश व निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी।’’
मालूम हो कि मौजपुर में रविवार दोपहर भी सीएए और एनआरसी के समर्थक और विरोधी आपस में भिड़ गए थे। दोनों पक्षों की ओर से एक घंटे तक भारी पत्थरबाजी हुई थी। कल भी पुलिस को आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा था।

RITAM DIGITAL

LEAVE A REPLY