रशायानिक खेती से मानव, खेत और जानवर रोगग्रसत – मोहिनी मोहन मिश्र

0
SHARE

भारतीय किसान संघ के उतर पूर्व क्षेत्र (बिहार,झारखंड) का चिंतन शिविर का समापन संघ के राष्ट्रीय मंत्री मोहिनी मोहन मिश्र द्वारा किया गया। इस अवसर पर क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा की भविष्य में खेती पर आने वाले संकट के मद्देनजर किसान संघ को उससे लड़ने के लिए अपने आप को तैयार करना होगा। खेती में रसायनों के प्रयोग ने मानव, खेत और जानवरों को भी रोगग्रसत कर दिया है। आज किसान कंपनीयों द्वारा बनाये गये भवर जाल में फँसकर परलम्बी बन गया है। अब इस भवर जाल से निकालना किसान संघ का कर्तव्य बनता है।
शिविर में राष्ट्रीय मंत्री ब्रजकिशोर सिंह ने किसानों को गौ आधारित जैविक खेती करने के लिए आह्वान किया। कार्यक्रम मे भारतीय किसान संघ के पूर्व क्षेत्र अध्यक्ष परमानंद चाँदवाला, उतर बिहार के पुर्व अध्यक्ष सुदामा सिंह व साधुशरण पाण्डेय को राष्ट्रीय मंत्री मोहिनी मोहन मिश्र द्वारा साॅल देकर समानित किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता क्षेत्र अध्यक्ष चंद्रमा चैधरी तथा संचालन मनोज कुमार ने किया। शिविर में बलिराम सिंह, गोपाल शाही, सर्वजीत सिंह, पवन सिंह, अशोक कुमार, सनत कुमार, प्रशांत खाखा, बीरेन्द्र जायसवाल, सतेन्द्र सिन्हा, मनोज गुप्ता, विनोद सिंह, प्रकाश नारायण तिवारी समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY