डालमिया डीएसपी लिमिटेड मजदूरों के अधिकारों का करता है हनन

0
SHARE

डालमिया डीएसपी लिमिटेड में मजदूर व नई प्रबंधन समिति के बीच टकराव बढ़ता ही दिख रहा है. गलत आरोप लगाकर काम बंद करवा कर पैसा काट लेना नई प्रबंधन समिति की आदत बन गयी है उक्त बाते डालमिया मजदूर संघ के माहामंत्री रिंकू सिंह ने कही.

अपने व्यक्तव में उन्होंने बताया कि डालमिया डीएसपी लिमिटेड पूर्व कल्याणपुर सीमेंट लिमिटेड के पैकिंग प्लांट के 79 मजदूर जो लगभग 30 से 40 वर्षों से काम करते आ रहे हैं. उनको भारत के सीमेंट वेज बोर्ड के तहत उनका वेतन तथा फैसिलिटी हेवी ड्यूटी के हिसाब से परमानेंट मजदूर के बराबर मिलता है. परंतु डालमिया डीएसपी (नई प्रभंधन समिति) जब से आया है मजदूरों को बिना कारण उनका एम्पलाई नंबर तथा कॉस्ट हेड जिससे यह पता चलता है कि वह किस डिपार्टमेंट में काम करते हैं जबरदस्ती छीन लेने का प्रयास करते रहती है.

नाम न बताने के शर्त पर वहां कार्यरत एक मजदूर ने बताया कि डालमिया डीएसपी लिमिटेड मजदूरों के अधिकारों का हनन करती  है और उनको टेंपरेरी वर्कर की तरह काम करा कर बाहर कर देना चाहती है. इस मूद्दे पर  सहायक श्रम आयुक्त केंद्रीय, पटना ने आदेश दिया है कि मजदूरों के साथ किसी  भी तरह की कोई  कटौती नहीं की जाए. फिर भी प्रबंधन जानबूझकर मजदूरों को परेशान कर रही है जिसमें मुख्य रुप से यूनिट हेड- रामकुमार बनवीर हेड, एचआर- मयंक कुमार पाठक, सुपरवाइजर -अजय यादव शामिल है.

LEAVE A REPLY