राम मंदिर निर्माण आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले जगदगुरू स्वामी हंसदेवाचार्य जी का सड़क दुर्घटना में निधन

0
SHARE


जगदगुरु रामानन्दाचार्य हंसदेवाचार्य जी महाराज का आज सड़क दुर्घटना में निधन हो गया. उनका पूरा जीवन सनातन धर्म के प्रचार और प्रसार के लिए समर्पित रहा. अपनी वाणी और कृत्य से उन्होंने सदैव मानवता की सेवा पर बल दिया. स्वामी हंसदेवाचार्य जी बैरागियों के मुखिया थे और साथ ही राम मंदिर निर्माण आंदोलन में अहम भूमिका निभा रहे थे. वे पंचनद स्मारक ट्रष्ट के भी मुख्य संरक्षक थे.

प्रयाग से हरिद्वार जाने के दौरान सड़क दुर्घटना हुआ निधन

स्वामी हंसदेवाचार्य जी आज सुबह प्रयागराज से हरिद्वार जा रहे थे, रास्ते में उन्नाव के समीप उनकी गाड़ी हादसे का शिकार हो गई. जिसके बाद उन्हें घायल अवस्था में लखनऊ ले जाया गया. इलाज के दौरान अस्पताल में उनका निधन हो गया. उनके साथ गाड़ी में तीन और लोग मौजूद थे, जो सुरक्षित बच गए हैं. स्वामी हंसदेवाचार्य जी बैरागियों के मुखिया थे और साथ ही राम मंदिर निर्माण आंदोलन में अहम भूमिका निभा रहे थे.

विश्व हिन्दू परिषद् के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने शोक संदेश में कहा कि विहिप सहित सम्पूर्ण हिन्दू समाज के लिए एक अपूर्णीय क्षति है. हिन्दू समाज व सम्पूर्ण देश को उनका बहुआयामी आध्यात्मिक व सामाजिक जुझारू व्यक्तित्व सदैव याद रह कर प्रेरणा देता रहेगा.

स्वामी जी के निधन पर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि, शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती के प्रतिनिधि स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद, स्वामी आनंद गिरि, सतुआ बाबा आश्रम के महंत एवं महामंडलेश्वर संतोष आदि ने गहरा शोक व्यक्त किया हैं.

LEAVE A REPLY