भागलपुर में विद्या भारती के कार्यकर्ताओं के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया।

0
SHARE

भागलपुर, 11 फ़रवरी । विद्या भारती के विद्यालयों का मुख्य उद्देश्य शिक्षा एवं संस्कार के माध्यम से सामाजिक स्तर का विकास करना है।  इस उद्देश्य से ही विद्या भारती के विद्यालयों में छात्रावास एवं प्रकल्प की व्यवस्था है।  उक्त बातें भारती शिक्षा समिति के सचिव गोपेश कुमार घोष ने भागलपुर में आयोजित विद्या भारती के कार्यक्रम में कही।

नरगाकोठी चम्पानगर, भागलपुर में गणपतराय सलारपुरिया सरस्वती विद्या मंदिर में क्षेत्रीय प्रकल्प एवं छात्रावास कार्यशाला के आयोजन को सम्बोधित करते हुए गोपेश कुमार घोष ने कहा कि विद्या भारती के उद्देश्य में भटकाव नहीं  आये इसलिए समय- समय पर कार्यकर्ताओं के लिए ऐसे कार्यशाला का आयोजन किया जाता रहता है।  

क्षेत्रीय सचिव दिलीप कुमार झा ने कहा कि विद्या भारती के विद्यालयों के द्वारा संचालित छात्रावास का उद्देश्य छात्रों में अच्छे संस्कार, दिनचर्या  समय पालन , अनुशासन जैसे सद्गुणों का विकास करना हैं।  

कार्यशाला में सह सचिव प्रकाश  चन्द्र जायसवाल , विभाग प्रमुख बजरंगी प्रसाद इत्यादि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY