स्वैच्छिक रक्तदान के क्षेत्र में एक नव संक्रांति हैं – सीवान का रक्तवीर

0
SHARE

सिवान, 14 दिसंबर। रक्तदान ही एक ऐसा माध्यम है जिससे आप प्रत्यक्ष रूप से एक जरूरतमंद की सहायता अपने रक्त को दान कर के करते हैं। इस लिए ही रक्तदान को महादान के श्रेणी में रखा गया है। ये बाते सीवान रेड क्रॉस सोसाइटी के सचिव रत्नेश कुमार सिंह ने गुरुवार को सीवान सदर अस्पताल स्थित ब्लड बैंक में सीवान के स्वैच्छिक युवारक्तदाताओं के सेवाभावी समूह “रक्तवीर ” के उद्घाटन के अवसर पर कहीं। उन्होंने कहा कि देशभर में रक्तदान हेतु नाको, रेडक्रास जैसी कई संस्थाएँ लोगों में रक्तदान के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रही है परंतु इनके प्रयास तभी सार्थक होंगे, जब हम स्वयं रक्तदान करने के लिए आगे आएँगे और अपने मित्रों व रिश्तेदारों को भी इस हेतु आगे आने के लिए प्रेरित करेंगे।

इस मौके पर ब्लड बैंक के चिकित्सा पदाधिकारी डाक्टर ने कहा कि  रक्तवीर के सदस्यों ने आज अपने संस्था के उद्घाटन के मौके पर स्वयं रक्तदान  कर के एक बहुत ही अच्छे अभियान का शुभारंभ किया है ।

गौरतलब हो कि सीवान के स्वैच्छिक युवा रक्तदाताओं के द्वारा स्थापित सेवाभावी समूह “रक्तवीर ” का गुरूवार को विधिवत् उद्घाटन संस्था के स्थापक सदस्य  व प्रसिद्ध रेडियो जाॅकी आर जे राणा , पत्रकार  नवीन सिंह परमार , पंकज गुप्ता , राजीव रंजन श्रीवास्तव ने  अपना रक्तदान कर के किया । इस मौके पर रक्तवीर के अन्य स्थापक सदस्य नीलेश कुमार वर्मा, डॉक्टर सुधीर कुमार सिंह उर्फ नन्हे, सतीश कुमार दूबे, पत्रकार मनोज कुमार सिंह, आशीष दूबे,  अमन राजपूत, ब्लड बैंक के कार्यकर्ता सतीश पाण्डेय,  मोहम्मद मोमिनउपस्थित थे ।

इस अवसर पर “रक्तवीर” टीम को बधाई देते हुए वरिष्ठ पत्रकार मनोज कुमार सिंह ने कहा कि स्वैच्छिक रक्तदान के क्षेत्र में एक नव संक्रांति हैं – सीवान का  “रक्तवीर”

वही प्रबंध समिति सदस्य नवीन सिंह परमार ने बताया कि रक्तवीर के माध्यम से आगामी 25 दिसंबर को सीवान सदर अस्पताल के ब्लड बैंक में एक मेगा रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा । यह शिविर भारत रत्न महामाना मदनमोहन मालवीय व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहार वाजपेई को समर्पित होगा।

LEAVE A REPLY