तीन दिवसीय संवाद कार्यशाला क हुआ समापन

0
SHARE
फिल्म पर चर्चा करते प्रशांत रंजन
फिल्म पर चर्चा करते प्रशांत रंजन

मुजफ्फरपुर, 1 फरवरी। विश्व संवाद केन्द्र, बिहार द्वारा मुजफ्फरपुर के एमडीडीएम कॉलेज में आयोजित संवाद कार्यशाला के अंतिम दिन सिनेमैटोग्राफर नरेंद्र सिंह ने वीडियो कैमरा की कार्य प्रणाली को विस्तार से समझाया । उन्होंने बताया कि थोड़ी जानकारी व सावधानी का इस्तेमाल कर अपने स्मार्टफोन से भी क्वालिटी वीडियो शूट कर सकते है।

फिल्मकार प्रशांत रंजन ने सिनेमा विधा की उपयोगिता बताते हुए कहा कि सिनेमा संचार का सबसे प्रभावी माध्यम है, इसलिए इसका इस्तेमाल सार्थक रूप मे किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें अच्छी फिल्मों का चयन करना चाहिए एवं बुरी फिल्मों को न कहना चाहिए। सिनेमा को महज मनोरंजन मानकर नजर अंदाज नहीं करना चाहिए क्योंकि लालची ताकतें इस प्रभावी संचार माध्यम का दुरुपयोग साॅफ्ट वीपन के रूप मे कर रही हैं । इससे सावधान रहने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर विश्व संवाद केन्द्र के संपादक संजीव कुमार ने कहा कि आज मीडिया का इस्तेमाल लोभ व सत्ता के लिए किया जा रहा, जिससे सही व निष्पक्ष सूचना आमजन तक नही पहुँच पातीं। ऐसे मे विमर्श सुधार या discourse correction के उद्देश्य से संवाद कार्यशाला का आयोजन प्रासंगिक है।

कार्यशाला मे 200 से अधिक छात्राएँ उपस्थित रहीं।

LEAVE A REPLY